बिन ब्याही मां ने बच्ची को दिया जन्म, अपनाने से इंकार Bareilly News

जेएनएन, बरेली : वजह चाहें जो हो, यह वाकया उस मासूम को जिंदगी भर टीस देगा जिसकी आंखें तक ठीक से नहीं खुलीं और उस मां को भी जिसने नौ महीने गर्भ में रखने के बाद भी उसे गैर हाथों में देने का फैसला कर लिया। क्योंकि, वो बिन ब्याही मां है। इसलिए बच्ची को अस्पताल में छोड़कर चली गई।
जन्म देने के कुछ घंटे बाद बच्ची को छोड़ कर चली गई 
भुता क्षेत्र के एक गांव में रहने वाली किशोरी गुरुवार आधी रात को 108 एम्बुलेंस से फरीदपुर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंची। उसे प्रसव पीड़ा हो रही थी। रात में उसे प्रसव कराया तो उसने बच्ची को जन्म दिया। इसके कुछ घंटे बाद ही किशोरी अस्पताल के बेड से उठी और पिता के साथ बाहर निकल आई। अस्पताल स्टाफ ने रोका, पूछा कि बच्ची को छोड़कर कहां जा रहे जवाब आया कि उसे यहीं रख लीजिए।
सुनकर अचंभित हुआ स्टाफ, सीएमआे को दी जानकारी 
हम अपने घर नहीं ले जा सकते। वजह पूछी तो बताया कि किशोरी बिना ब्याही मां है। बच्ची को साथ ले जाएंगे तो समाज क्या कहेगा। सुनकर स्टाफ को अचंभा हुआ, तुरंत प्रभारी चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर बासित अली को फोन कर बताया। उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी, एसडीएम, पुलिस, 181 तथा 1098 चाइल्ड केयर, यूनिसेफ एनजीओ आदि को मामले की जानकारी दी।

0 Comments:

Adnow

loading...