शिवसेना को BJP के साथ सरकार बनाने में कोई दिक्कत नहीं अगर...



कुमार विश्वास ने इश बॉलीवुड एक्ट्रेस को दी पॉलिटिक्स जॉइन करने की सलाह, तो एक्ट्रेस ने दे डाला ऐसा जवाब....देखें


महाराष्ट्र (Maharashtra) में सरकार गठन को लेकर बरकरार सस्पेंस के बीच सूत्रों के हवाले से खबर आई है कि अगले हफ्ते तक सरकार का गठन हो सकता है. उधर, शिवसेना का कहना है कि NCP और कांग्रेस के साथ सरकार गठन पर बातचीत जारी है. इस बीच शिवसेना सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि भाजपा अगर 50:50 फॉर्मूले पर तैयार है तो पार्टी (शिवसेना) को 'BJP के साथ अपने गठबंधन को एक बार फिर से दुरुस्त करने में खुशीहोगी.' बता दें कि इससे पहले शिवसेना ने तीन दशक से अधिक समय तक अपने सहयोगी दल भारतीय जनता पार्टी (BJP) से 50:50 फॉर्मूले पर सहमति नहीं बनने के बाद नाता तोड़ लिया था. शिवसेना की मांग थी कि ढाई साल शिवसेना (Shiv Sena) का मुख्यमंत्री होगा और ढाई साल बीजेपी का मुख्यमंत्री बनेगा. बीजेपी (BJP) ने शिवसेना (Shiv Sena) की इस मांग को सिरे से खारिज कर दिया था कि इस तरह के किसी भी समझौते पर सहयोगी दल के साथ कोई चर्चा नहीं की गई.

रोचक ख़बर -अपने बर्थडे पर करिश्मा कपूर ने शेयर की तस्वीर, करण जौहर ने कुछ यूं किया...


इस बीच शिवसेना (Shiv Sena) का कहना है कि एनसीपी और कांग्रेस (NCP-Congress) के साथ मिलकर सरकार बनाने का काम सही दिशा में जारी है. 'शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा, 'आप शरद पवार और हमारे गठबंधन के बारे में चिंता नहीं करें. बहुत जल्द शिवसेना की अगुवाई वाली गठबंधन सरकार महाराष्ट्र में सत्ता में होगी. यह एक स्थिर सरकार होगी.' इससे पहले सोमवार को शरद पवार ने सरकार गठन को लेकर शिवसेना के साथ समझौते पर कहा था कि वास्तव में ऐसा था?' इसके बाद ऐसी अटकलों को हवा मिली कि क्या शिवसेना-NCP और कांग्रेस के बीच सरकार गठन पर कोई फैसला नहीं हो पाया. NCP प्रमुख के बयान के बाद शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि शरद पवार जो कहते हैं उसे समझने में 100 जन्म लग जाएंगे.

रोचक ख़बर-इस 40 वर्षीय अभिनेत्री ने किया खुलासा, निर्देशक ने होटल के रूम में बुलाया था अकेला


बता दें कि महाराष्ट्र की 288 सदस्यीय विधानसभा में बीजेपी के पास 105, शिवसेना के पास 56 सीटें हैं, जबकि राकांपा और कांग्रेस के पास क्रमश: 54 और 44 सीटें हैं. राज्य में सरकार बनाने को इच्छुक किसी भी दल या गठबंधन को विधानसभा में बहुमत साबित करने के लिए कम से कम 145 विधायकों के समर्थन की जरूरत होगी.

0 Comments: