देवेंद्र फडणवीस इसलिए बने थे 80 घंटे के लिए महाराष्ट्र के सीएम - अनंत हेगड़े



बीजेपी सांसद अनंत हेगड़े के बयान से एक बार फिर महाराष्ट्र के राजनीति गलियारों में हलचल पैदा कर दी है। हेगड़े ने बताया है कि आखिरी देवेंद्र फडणवीस आखिर क्यों 80 घंटे के लिए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री बने थे। उन्होंने बताया कि बीजेपी ने यह नाटक क्यों किया? आपको बता दें कि सामना के जरिए शिवसेना ने बीजेपी पर बोलते हुए लिखा कि बहुमत न होने के बाद भी महाराष्ट्र को अंधेरे में रखकर अवैध ढंग से शपथ लेनेवाले मुख्यमंत्री तथा विधानसभा का सामना किए बिना 80 घंटे में चले जाने वाले मुख्यमंत्री ऐसा आपका इतिहास में नाम दर्ज हो चुका है, इसके याद रखो। ये कलंक मिटाना होगा तो विपक्ष के नेता के रूप में वैध काम करें या कम से कम पार्टी में खडसे मास्टर से प्रशिक्षण लें।

अमित शाह ने कांग्रेस को दिया चैलेंज, कहा...

हेगड़े ने कहा कि आप सभी जानते हैं कि महाराष्ट्र में हमारा आदमी 80 घंटे के लिए सीएम बना। फिर फड़नवीस ने इस्तीफा दे दिया। उसने यह नाटक क्यों किया? क्या हमें नहीं पता था कि हमारे पास बहुमत नहीं है और फिर भी वह सीएम बने। यह सवाल हर कोई पूछ रहा है।

शिवसेना का BJP पर बड़ा हमला, कहा- '25 साल की दोस्ती देखी है, अब दुश्मनी देखो

उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार ने लगभग 40,000 करोड़ रुपये महाराष्ट्र को दिए थे। उन्हें पता था कि अगर कांग्रेस-एनसीपी-शिवसेना की सरकार सत्ता में आती है तो वह विकास के लिए धन का दुरुपयोग करेगी। इसलिए यह तय किया गया कि एक ड्रामा किया जाएगा। फडणवीस सीएम बने और 15 घंटे में वह 40,000 करोड़ रुपये केन्द्र को वापस कर दिए।

समंदर हूं लौटकर वापस आऊंगा : फडणवीस



महाराष्ट्र विधानसभा में रविवार को पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने शायरना अंदाज में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर पलटवार किया। उन्होंने शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के विधायकों को अध्यक्ष के माध्यम से संबोधित करते हुए कहा कि समंदर हूं लौटकर वापस आऊंगा।

ठाकरे परिवार से पहले मुख्यमंत्री होंगे उद्धव, महाराष्ट्र में बदली सियासी हवा!

चुनाव से पहले दिए गए नारे मैं वापस लौटूंगा पर तंज कसने को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री ने स्वीकार किया कि उन्होंने ऐसा कहा, लेकिन इसके लिए समय देना भूल गए थे। उन्होंने कहा कि लेकिन मैं आपको एक बात का आश्वासन दे सकता हूं, आपको कुछ समय इंतजार करने की जरूरत है। फडणवीस ने एक शायरी ट्वीट करते कहा कि ‘मेरा पानी उतरते देख किनारे पर घर मत बना लेना, मैं समंदर हूं लौटकर वापस आऊंगा।’

उन्होंने कहा कि मैंने पिछले पांच सालों में न केवल कई परियोजनाओं की घोषणा की है बल्कि इन पर काम भी शुरू किया गया है। आप नहीं जानते, मैं उनका उद्घाटन करने के लिए वापस आ सकता हूं। फडणवीस ने कहा कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे फसल नुकसान के लिए किसानों को प्रति हेक्टेयर 25,000 रुपये दिए जाने की पहले जो मांग करते थे, उसे अब उन्हें पूरा करना चाहिए।

News Source: www.livehindustan.com

0 Comments:

Adnow

loading...