मध्य प्रदेश में बीजेपी ने तानाजी फिल्म की तो कांग्रेस ने छपाक की टिकट बांटी



जेएनयू पहुंचना फिल्म अभिनेत्री दीपिका पादुकोण के लिए भारी मुसीबत का सबब बनता जा रहा है। माहौल और हिन्दूवादी संगठनों की धमकी को देखते हुए उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में सिनेमा हाल संचालकों ने छपाक फिल्म का शेड्यूल नहीं लिया है। हिन्दूवादी संगठनों ने सिनेमा घरों के बाहर चेतावनी भरे होर्डिंग लगा दिए हैं। यहां पर चार प्रमुख सिनेमा हॉल हैं, जिन्होंने छपाक फिल्म को रिलीज करने से इनकार कर दिया है। वहीं सहारनपुर में गुरुवार देरशाम तक फिल्म की एडवांस बुकिंग नहीं हुई है। इसे भी विरोध से जोड़कर ही देखा जा रहा है। आपको बता दें कि छपाक फिल्म एसिड अटैक पीड़िताओं के ऊपर आधारित है। फिल्म अभिनेत्री दीपिका पादुकोण ने इसमें अभिनय किया है। नागरिकता कानून के विरोध को लेकर जेएनयू में हुए हमले को लेकर दीपिका पादुकोण जेएनयू पहुंचीं थीं, जिसको लेकर विरोध चल रहा है।

छपाक और तानाजी फिल्‍म को लेकर कांग्रेस और बीजेपी में कुछ अलग से होड़ मची हुई है। जहां कांग्रेस ने लोगों को दीपिका की छपाक फिल्म देखने के लिए टिकटें बांटी तो बीजेपी ने तानाजी फिल्म देने के लिए लोगों की टिकट बांटी।

अखिलेश संग कार्यकर्ता देखेंगे 'छपाक'
सपा ने इस संबंध में ट्वीट किया है। इसमें कहा गया है कि राष्ट्रीय अध्यक्ष के निर्देश पर शुक्रवार को समाजवादी पार्टी अपने कार्यकर्ताओं को छपाक फिल्म दिखाएगी। इसके लिए लखनऊ में एक हाल बुक किया गया है। हाल ही में दीपिका पादूकोण ने लखनऊ में शीराज कैफे आकर एसिड़ पीड़ित महिलाओं से मुलाकात की थी। पिछली अखिलेश सरकार में एसिड़ पीड़ित महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने उद्देश्य से रेस्टोरेंट के लिए मौजूदा भवन उपलब्ध कराया गया था।

मैं छपाक नहीं देखूंगा और देखने भी नहीं दूंगा
आजाद हिन्दूवादी नेताओं की ओर से ग्रेट वैल्यु माल, डीडी सिनेमा के बाहर होर्डिंग लगाए हैं कि नहीं छपाक फिल्म देखेंगे और नहीं देखने देंगे। फिल्म को रिलीज करने वाले अपना बीमा जरूर करवा लें। होर्डिंग पर लिखा है कि जेएनयू में जो हुआ वह दुखद है। ज्ञान के मंदिर में हिंसा की कोई जगह नहीं है। दीपिका ने हिंसा के खिलाफ आवाज उठाई होती तो पूरा देश साथ होता, लेकिन घायल दोनों पक्षों के लोग हुए और मुलाकात सिर्फ एक पक्ष से की जा रही है। दीपिका पादुकोण ने राष्ट्रीयता के चेहरे पर एसिड फेंका है। पंकज पंडित व दीपक शर्मा के नाम से होर्डिंग लगाए गए हैं।

अलीगढ़ में आज नहीं दिखाई जाएगी छपाक
हिन्दूवादी संगठनों ने छपाक फिल्म को रिलीज करने पर सीधे चेतावनी दी है। अलीगढ़ में सिनेमाघरों के बाहर होर्डिंग लगा दिए हैं। यहां पर डीडी, ग्रेड वैल्यु मॉल, मीनाक्षी व सीमा सिनेमा हाल के संचालकों ने छपाक फिल्म को दिखाने से इनकार कर दिया है।

सपा के कार्यकर्ताओं ने कहा देखने जाएंगे छपाक फिल्म
सपा छात्र सभा के नेता अर्जुन ठाकुर व रंजीत चौधरी ने कहा कि अपने पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं के साथ छपाक फिल्म देखने जाएंगे। अगर किसी ने रोकने की कोशिश की तो अच्छा नहीं होगा। दीपिका पादुकोण ने बेटियों के संघर्ष व उनको बढ़ावा देने के लिए फिल्म बनाई है। कहा कि कुछ लोगों ने फिल्म रोकने को धमकी है, पुलिस प्रशासन सिनेमा हालों को सुरक्षा मुहैया कराए और लोग फिल्म देखने जाएं। फिल्म समाज की कुरीतियों पर बनी है जो समाज के लिए प्रेरणा देगी। दोपहर 12 से तीन बजे का शो देखने का ऐलान किया है।

कांग्रेस भी आई छपाक फिल्म के समर्थन में
बालीवुड अभिनेत्री दीपिका पादुकोण की फिल्म छपाक को लेकर सियासत तेज हो गई है। कांग्रेस भी फिल्म के समर्थन में उतर आई है। पार्टी नेता शैलेन्द्र तिवारी ने फिल्म की रिलीज से एक दिन पहले उसके समर्थन में पोस्टर लगाए हैं। पोस्टर में लिखा है, 'जो महिलाओं का सम्मान करते हैं। उन्हें सशक्त बनाना चाहते हैं, उन्हें यह मूवी अवश्य देखना चाहिए'।

एबीवीपी ने जलाया दीपिका का पुतला
मुजफ्फरनगर में एबीवीपी के सदस्यों ने गुरुवार को फिल्म अभिनेत्री दीपिका पादुकोण का पुतला फूंका। उन्होंने अभिनेत्री के जेएनयू में आयोजित कार्यक्रम में प्रतिभाग पर आक्रोश जताया। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के बैनर तले छात्र शिवचौक पर एकत्र हुए और बाइकों पर नारेबाजी करते हुए भोपा रोड स्थित ग्रैंड प्लाजा मॉल पहुंचे। यहां के मल्टीप्लेक्स में शुक्रवार से दीपिका पादुकोण की फिल्म रिलीज होने की सूचना सचना है। इस दौरान छात्रों ने अभिनेत्री का पुतला फूंका। पुतला फूंके जाने की पुलिस को भनक तब लगी जब एबीवीपी के सदस्य पुतला फूंककर जा चुके थे।

उधर, सहारनपुर में फेसबुक से लेकर ट्वीटर तक पर इसको लेकर कई तरह की पोस्ट की जा रही है। छपाक फिल्म के विरोध का असर भी शुरु हो गया है। शहर के एसआरएस सिनेमा में शुक्रवार से छपाक फिल्म लग रही है। फिल्म के पूरे दिन में सात शो चलेंगे, लेकिन हैरानी की बात ये है कि इस फिल्म के लिए कोई एडवांस बुकिंग नहीं हुई है। सिनेमा संचालकों का कहना है कि दूसरी फिल्मों की एडवांस बुकिंग हो गई है लेकिन छपाक की बुकिंग न होना परेशान करने वाला है।

जानें क्या बोले सिनेमा संचालक
सीमा टॉकीज के मैनेजर अक्षय दीक्षित ने कहा कि छपाक फिल्म नहीं रिलीज की जा रही है। माहौल को देखते हुए शेड्यूल नहीं लिया गया है।

तालानगरी में ग्रेट वैल्यु मॉल के मैनेजर विश्व रूपन ने कहा कि माहौल को देखते हुए छपाक फिल्म का शेड्यूल नहीं लिया गया है। एक हिन्दूवादी संगठन ने गेट के बाहर चेतावनी भरे होर्डिंग भी लगाए हैं। एसएसपी ने सुरक्षा का पूरा भरोसा दिया है, लेकिन एहतियात के तौर पर फिल्म नहीं दिखाई जाएगी। 

संचालक धनजीत वाड्रा ने कहा कि छपाक फिल्म रिलीज करने पर अभी फैसला नहीं लिया गया है। फिलहाल फिल्म का शेड्यूल नहीं लिया गया है। संचालन पर शुक्रवार को भी फैसला लिया जा सकता है।

आगरा में फिल्म छपाक की रिलीज का हो रहा है विरोध

वहीं आगरा में रिलीज हो रही फिल्म छपाक के विरोध के चलते मल्टीप्लेक्स और सिनेमाघरों के पास सुरक्षा व्यवस्था के निर्देश दिए गए हैं। गुरुवार की शाम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में डीजीपी ने इसके निर्देश दिए। शुक्रवार को फिल्म छपाक रिलीज हो रही है। इसमें भी तेजाब डालने वाले का नाम बदलने को लेकर विवाद हो रहा है। कुछ संगठनों ने विरोध का एलान किया है। फिल्म मल्टीप्लेक्स और सिनेमाघरों में एक साथ रिलीज होगी। कोई संगठन वहां विरोध प्रदर्शन को नहीं पहुंचे, इसके लिए पुलिस को सुरक्षा इंतजाम करने की जिम्मेदारी दी गई है। ऐसा इनपुट मिला है कि प्रदर्शन के दौरान अवांछनीय तत्व माहौल बिगाड़ने का प्रयास कर सकते हैं। इसी के मद्देनजर सुरक्षा के निर्देश दिए गए हैं।

BJP ने दिल्ली को 'भारत की कचरा राजधानी' में बदल दिया - अरविंद केजरीवाल

राज ठाकरे से हाथ मिलाने की अभी कोई योजना नहीं - देवेंद्र फडणवीस

0 Comments:

Adnow

loading...