पुलवामा में शहीद हुए परिवारों को 1 साल से नहीं मिल रही है सरकारी नौकरी और नहीं मिल रहा है वेतन

पुलवामा में शहीद हुए परिवारों को 1 साल से नहीं मिल रही है सरकारी नौकरी और नहीं मिल रहा है वेतन बस कागजों पर सब कुछ हो रहा  14 फरवरी 2019 को, जम्मू श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर भारतीय सुरक्षा कर्मियों को ले जाने वाले सीआरपीएफ के वाहनों के काफिले पर आत्मघाती हमला हुआ, जिसमें करीब 45 भारतीय सैनिक शहीद हो गए।  फरवरी को ऐसा हुआ
इसको पूरे देश को आंखों में आंसू आ गए पूरे देशवासियों की आंखें नम हो गए पुलवामा कश्मीर में 14 फरवरी को आतंकियों द्वारा विस्फोट किया गया था जिससे हमारे देश के जवानों शहीद हो गए थे लेकिन सरकार के द्वारा अभी तक कोई भी मदद नहीं की जा रही है नहीं उनके लोगों को सरकारी नौकरी मिल रही है नई उनको वेतन मिल रहा है परिवार वालों को उनका तो बेटा खो गया सब कुछ हो गया  आज के दिन सब लोग शहीद दिवस के रूप में मनाया जा रहा है ऐसे आतंकी जो को खुलेआम सजा देनी चाहिए जो एक प्रेम के दिन उन्होंने ऐसा गलत काम किया
पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों को सच्चे दिल से हमारा दिल से शत-शत नमन इनके मां बापू को भी शत-शत नमन जिन्होंने ऐसे ऐसे वीरो को पैदा किया 

0 Comments:

Adnow

loading...