अगर लॉकडाउन ना होता तो आप कभी ना देख पाते प्रकृति के ये बेहतरीन बदलाव

अगर लॉकडाउन ना होता तो आप कभी ना देख पाते प्रकृति के ये बेहतरीन बदलाव


हेल्लो दोखु पाटिल ' में आपका स्वागत है।
आज के पोस्ट में हम आपको लॉकडाउन के पर्यावरण पर पड़ने वाले सकारात्मक असरो के बारे में।


1 प्रदूषण

लॉक डाउन के चलते सारे लोग घरों में हैं और वाहनों का काफी कम ही उपयोग हो रहा है ।
इससे प्रदूषण में भारी कमी आई है। दिल्ली के लोगों का कहना है कि पिछले 10 सालों में हमने पहली बार साफ आसमान देखा है।इंडिया गेट की तस्वीरों को देखकर आप यह पता कर सकते हैं।

2 . साफ नदियां 

यमुना नदी में हमेशा से ही कारखानों के गंदे पानियो को डाला जाता था लेकिन अभी सारे कारखाने बंद है जिसके कारण आप नदी पर हुए लॉक डाउन के प्रभाव को आसानी से देख सकते है।

image downloaded from google

3 जानवरों का बेहतर विकास

ओडिशा के समुद्र तट पर हमेशा ही सैलानियों की भीड़ लगी रहती थी , लेकिन लॉक डाउन के चलते इस साल इस बीच पर लाखो कछुए अंडे देने के लिए इक्कठा हुए थे।मानव की गैर मौजूदगी में जीवों का बेहतर विकास हो रहा है।


आज हम सिर्फ विकास के नाम पर प्रकृति का अंदाधुन्न दोहन कर रहे है। ये विनाश इसका ही परिणाम है । हमारा स्वार्थ हमें एक दिन ले डूबेगा ।
अब सिर्फ लॉक डाउन खुलते ही स्तिथि जैसी की तैसी हो जायगी।

0 Comments:

Adnow

loading...